पानी पीने के बाद बार-बार पेशाब आना और जलन होना- घरेलू उपाय खोज रहे है या बार-बार पेशाब आने का होम्योपैथिक इलाज की जानकारी लेना चाहते है चाहे आप ये जानना चाहते हो कि महिलाओं को बार-बार पेशाब आना की वजह क्या है या पीरियड में बार-बार पेशाब आता है ,रात में बार बार पेशाब आना या छोटे बच्चों को बार बार पेशाब आना – इनकी क्या मुख्य वजह है तो आज हम इस पोस्ट में बार-बार पेशाब आने की अंग्रेजी दवा,बार-बार पेशाब आने की आयुर्वेदिक दवा,बार-बार पेशाब आने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि, बार-बार पेशाब आने का कारण और लक्षण -सब जानने बारी बारी से..

बार बार पेशाब आना होम्योपैथिक इलाज- कारण , लक्षण -findgyan.com

कई बार हम बार-बार Pee आने से परेशान होते है हमें लगता है कि सामान्य से ज्यादा बार पेशाब करने की इच्छा बार – बार हो रही है , हम थक जाते है और सोचते है कि इसकी असल क्या वजह हो सकती है कभी – कभी तो बार – बार पेशाब आने के साथ , दर्द और जलन भी होने लगती है और हम उससे जल्दी से जल्दी राहत पाना चाहते है जिसके लिए बार – बार पैशाब आना होम्योपैथिक इलाज (घरेलू उपाय ) जानना चाहते है तो आप सही पेज पर आए है . आज हम यहाँ पर इसके मुख्य लक्षण , कारण , कहीं कोई बीमारी तो नहीं , और इसके घरेलू उपाय , और महिलाओं में बार – बार पैशाब , पुरुषो में बार बार पैशाब(Frequent urination) -सब जानेंगे – जिससे फिर आगे कभी भी आपको इस समस्या से जूझना न पड़े .

बार-बार पेशाब आने के मुख्य कारण-

Table of Contents

  1. मूत्र मार्ग में संक्रमण (यूटीआई) का होना
  2. प्रोस्टेट का बढ़ना
  3. मूत्राशय की पथरी
  4. गर्भावस्था की सिचुएशन में
  5. पेल्विस में ट्यूमर के कारण
  6. शराब का अत्यधिक सेवन करना
  7. चिंता की वजह से
  8. डायबिटीज का नियंत्रित न रहना

एक दिन में कितनी बार पेशाब करना सामान्य बात है?

इनके अलावा भी बहुत से और भी कारण है. अगर आपको ये जानना है कि आपको बार – बार जो पेशाब लगता है वो सामान्य है या नहीं -तो अगर दिन में 8 -10 बार से ज्यादा बार पेशाब आता है आपको तो समझ जाए – इसके पीछे कोई अहम कारण हो सकता है तो गौर करना जरूरी है .अगर लम्बे समय से पे समस्या है और जलन , दर्द भी हो रहा है तो डॉक्टर की सलाह एक बार अवश्य ले .. हो सकता है ये एक बीमारी का संकेत हो या हो भी सकता है कि आप तनाव में ज्यादा रहते हो या आपको शुगर (diabetes) की बीमारी हो!

Diabetes, Disease, Diabetic, Health
बार-बार पेशाब आना- डायबिटीज का संकेत भी हो सकता है -findgyan.com

यहां हम मुख्य कुछ कारण को जानेंगे – बार-बार पेशाब आना किस और संकेत हो सकता है –

1.मूत्र मार्ग में संक्रमण (यूटीआई) का होना

बार – बार पेशाब (pee) आना , मूत्र मार्ग में संक्रमण (यूटीआई) का होना कि ओर भी संकेत हो सकता है . समान्यत तौर पर हम सबसे पहले यही पहली वजह का होना य न होना चेक करते है . इसमें पेशाब के आने के साथ जलन और पेशाब में बदबू भी आ सकती है . इसमें पीठ के निचले हिस्से में पीड़ा महसूस होती रहती है . इसमें आपको सबसे पहले लैब टेस्ट करवाना है – जिसका नाम यूरिन कल्चर होता है , फिर उस रिपोर्ट को डॉक्टर को दिखाना है . इन्फेक्शन कम या ज्यादा हो सकता है . उस हिसाब से फिर डॉक्टर एंटीबायोटिक्स देंगे – जिनसे आपको राहत मिल जाएगी.

2.प्रोस्टेट बढ़ना (Enlarged Prostrate)

प्रोस्टेट नाम की ग्रंथि होती है जो केवल पुरुषों के शरीर में ही पाई जाती है। उम्रबढने के साथ साथ 50 साल के बाद ज्यादातर ये ग्रंथि बढने लगती है जिस वजह से पेशाब करने में परेशानी तो कभी जलन होने लगती है.

3.मूत्राशय की पथरी -ब्लैडर स्टोन (bladder stones)

मूत्राशय में जब हमारे बिलकुल छोटे-छोटे पत्थर बनने लग जाए उसे  मूत्राशय की पथरी (bladder stones) कहा जाता हैं। इसमें बार – बार ;पेशाब आने के साथ , जलन होती है और कभी कभी पेशाब आने में भी परेशान होती है जब पत्थर पेशाब की नली में फंस जाता है . इसमें पेट के निचले हिस्से में दर्द भी होता है .

4.गर्भावस्था में (प्रेगनेंसी में) बार – बार पेशाब आना

ज्यादातर जब महिलाए प्रेगनेंसी दौर से गुजर रही होती है उनके हार्मोंस बढ़ते – घटते रहते है जिस वजह से प्रेगनेंट महिलाओं को बार-बार पेशाब आने की परेशानी होती है। इस सिचुएशन में ब्लड सर्कुलेशन बहुत अधिक रफ्तार से होता है . किडनी में फ़ास्ट ब्लड सर्कुलेशन की वजह से बार बार पेशाब आता है .

5.पेल्विस में ट्यूमर | पेल्विक पैन या ब्लैडर कैंसर (bladder cancer)- बार – बार पेशाब आना

यह महिलाओं और पुरुषो में दोनों में हो सकता है जिसकी वजह से पेल्विक पैन होता है और आपको बार बार पेशाब आने की परेशानी होती है . अगर आपको इस संकेत की तरफ बार बार पेशाब लगने का कारण लग रहा है तो आपको अवश्य डॉक्टर को जरुर दिखाना चाहिए . ये आगे चलकर गंभीर बीमारी का रूप ले सकती है .

6.शराब का अत्यधिक सेवन करना- बार बार पेशाब आना

बार बार पेशाब आना और जलन होना हर बार कोई बीमारी की ओर ही संकेत नहीं देता , इसकी वजह आपकी गलत आदते भी हो सकती है . एक अक्सर जो शराब बहुत पीते है उन्हें बार -बार पेशाब (pee ) लगने की समस्या से जूझना पड़ता है . इस समस्या से राहत चाहिए तो जितनी जल्दी हो आप अपनी इस आदत को सुधार लें .

7.चिंता की वजह से- बार बार पेशाब आना

बार बार पेशाब आना- होम्योपैथिक इलाज जानना चाहते है तो सबसे पहले तो बार बार पेशाब आने की वजह आपका चिंता करना या टेंशन में रहना भी हो सकता है . जब आप डिप्रेशन में होते है तो पैशन समान्यत तौर पर न रहकर बार -बार लगता है . और कई बार जलन भी होती है -तो खुश रहने की कोशिश किया करें .

8.डायबिटीज (Diabetes) / मधुमेह – बार बार पेशाब आने का कारण

बार बार पेशाब आना और जलन होना से अगर आप आप परेशान है तो इससे जुडी प्रमुख बीमारी जिसकी ओर ये संकेत देता है वो है डायबिटीज .बारबार पेशाब आना टाइप 1 या टाइप 2 डायबिटीज भी कारण हो सकता है . इसमें ब्कीलड शुगर का लेवल बढ़ जाता है जिससे किडनी से ज्यादा मात्रा में पेशाब – यूरिन की फॉर्म में बाहर निकलता है जिससे बार – बार पेशाब आता है इसमें थकान बहुत रहती है और मूड भी बदलता रहता है .

बार बार पेशाब आना होम्योपैथिक इलाज | बार बार पेशाब आना घरेलू उपाय

होम रेमेडीज / घरेलू उपाय(Home Remedies for Frequent Urination)

  1. यदि बार – बार पेशाब आता है जलन होती है यदि आपको बहुमूत्र का रोग है तो उसके उपचार के लिए आंवले के पञ्च ग्राम रस में हल्दी की चुटकी घोली और उसमे पञ्च ग्राम शहद मिलकर पी जाइए . ऐसा करने से जरा -जरा सी देर में पेशाब का आना बंद हो जाएगा .
  2. यदि बार – बार पेशाब आने से छुटकारा पाना चाहते है तो जामुन की गिरी के चूर्ण में समभाग काले तिल मिलाकर 1 तोले की मात्रा में सुबह और शाम दोनों वक्त दूध के साथ सेवन करें.इससे बार बार पेशाब आना – जलन होना रुक जाएगा .
  3. बार -बार पेशाब आना दूर करने के लिए मीठी नीम की जडो का रस [पीजिए .वरना आप पचास ग्राम नीम की हरी सिंके तोड़ लाइए . रस निकाल कर उसमे उनाब का शरबत मिलाकर पी जाइए.
  4. मैथी की पत्तियों का रस आप सुबह शाम रोजाना पीजिए – इससे बार बार पेशाब नहीं लगेगा .
  5. बार – बार पेशाब आने की समस्या से निजात पाने के लिए व्यक्ति को हल्दी को बारीक पीसकर इसे पानी के साथ सुबह – शाम रोजाना – सेवन करें , ऐसा छ; माह तक करना है . कुछ दिन बाद लगातार सेवन से आपकी ये बीमारी शांत हो जाएगी .
  6. यदि आप बार बार पेशाब आने से परेशान है तो रोजाना आपको थोड़े हरे आंवले लेने है उनका रस निकलना है इसमें फिर शहद मिलाना है और पी जाना है . ऐसा करने से बार – बार पेशाब की समस्या से छुटकारा मिलेगा .
  7. बार -बार पेशाब आने पर दर्द होने पर या बार बार पेशाब आना होम्योपैथिक इलाज के लिए आपको दस ग्राम बेलगिरी , एक टुकड़ा दालचीनी और छोटी सी गांठ सोंठ की एक साथ दल डालनी है . इसे डेढ़ सौ ग्राम ;पानी में उबले और पच्चीस ग्राम रह जाने पर इसे छान लेना है और जिसके बार – बार पेशाब आने की समस्या हो रही है उसे पिला दे . इसे दिन में तीन बार सेवन कराने से दो दिनों में कष्ट टल जाएगा .

परहेज -जब बार-बार पेशाब आए और अन्य उपाय

  • बार-बार पेशाब की समस्या में आपको चीनी (शुगर )का ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए
  • जो फ्रूट मीठे बहुत है उन्हें कम कर देना चाहिए – जैसे अंगूर
  • बार – बार पेशाब की वजह से पानी पीना न छोड़े
  • हरी सब्जियां खाए
  • साफ़ -सफाई (खुद को हाइजीन ) का ध्यान रखे
  • खुश रहने की कोशिश करें
  • शराब जैसी बुरी लत है तो छोड़ दे

अगर ज्यादा समस्या आ रही है तो एक बार डॉक्टर की सलाह जरुर लें !